यह न्यूज़ किसी के हौंसले को बनाये रखने के लिए हैं


आज जहाँ युवा वर्ग खेती से दुर भागता जा रहा हैं वही बिक्रम प्रखंड के हरपुरा गांव के रहने वाले युवा किसान देवकुमार जी ने बड़े अरमानों के साथ पशुपालन का कारोबार शुरू किया था।दो गायों से अपनी यात्रा शुरु की।मेहनत, लगन, धैर्य और जुनून का सामुहिक असर दिखा।आज उनकी गौशाला में बारह गायें थी।अच्छी आमदनी थी ।घर गाँव के लिए देवकुमार जी खुशहाली के प्रतीक बन चुके थें।अचानक आठ दिसंबर की रात को ईनका सपनों का आशियाना उजड़ गया।शार्ट सर्किट के कारण ईनका गौशाला जल गया।महज पांच मिनटो में आठ गाये बुरी तरह जल गयी।देवकुमार जी बताते हैं की उन्हें ईस घटना से उन्हें छह लाख रुपये का नुकसान हुआ हैं।ईलाज मे तकरीबन डेढ़ लाख रुपये खर्च होने की संभावना हैं।देवकुमार जी टूट चुके हैं। बिखर चुका है ईनका सपना।समाज, सरकार और संस्थान अगर ईस जुनूनी युवा किसान का हाथ थामें, हौसला बढ़ाये तो कल निश्चित देवकुमार जी खड़े होगें।आखिर समाज, हम आप है किसलिए।मदद किजिए ईस जिंदादिल किसान की ताकी ईनकी जिदंगी की जिद्द जारी रहें।

Author: Anupam Uphar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 2 = 1