युवा संवाद में बिहार के 20 जिला के छात्र-छात्राओं का हुआ जुटान

बिहार और देश की राजनैतिक माहौल और युवाओं की भागीदारी पर हुई चर्चा नेउरा, 8 अप्रैल 2018|  जन आंदोलनों का राष्ट्रीय समनव्य और लोकधारा द्वारा 6-8…

आरक्षण पर श्वेत पत्र की आवश्यकता- डा॰ जगन्नाथ मिश्र

डा॰ जगन्नाथ मिश्र ने कहा कि सरकारी सेवाओं में आरक्षण को लेकर भ्रम पैदा किया जा रहा है, जिसे आने वाले दिनों में और बढ़ाने…

आजादी के 70 वर्ष बाद भी दलित-आदिवासी और हाशिये पर

डा॰ जगन्नाथ मिश्र रिपोर्ट के अनुसार आजादी के 70 वर्ष बाद भी दलित-आदिवासी और हाशिये पर रहे तबकों पर होने वाले अत्याचारों में कोई कमी…

‘‘जातिवाद और सांप्रदायिकतावाद’’लोकतांत्रिक ढाँचे के लिए खतरे का संकेत

पटना, 16 अगस्त, 2016 कल 71वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मानवाधिकार संरक्षण प्रतिष्ठान के तत्वावधान में बिहार आर्थिक अध्ययन संस्थान के सभागार में राष्ट्रीय…

देश की आजादी अगस्त क्रान्ति द्वारा बनायी गयी पृष्ठभूमि के कारण प्राप्त हुई- डा॰ जगन्नाथ मिश्र

पटना, 9 अगस्त, 2017 75वें अगस्त क्रान्ति दिवस के अवसर पर प्रतिष्ठान के राष्ट्रीय अध्यक्ष, डा॰ जगन्नाथ मिश्र, पूर्व मुख्यमंत्री (बिहार) एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री…

जीएसटी आजादी के 70 सालों में सबसे बड़े टैक्स सुधार – डा॰ जगन्नाथ मिश्र

पटना, 03 जुलाई, 2017 पं॰ जवाहर लाल नेहरू की तरह ही मौजूदा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ठीक उसी समय और स्थान को एक देश…

‘‘योग की महत्ता मानव स्वास्थ्य’’ विषय पर गोष्ठी का आयोजन

पटना, 20 जून, 2017 21 जून अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की पूर्व संध्या पर मानवाधिकार संरक्षण प्रतिष्ठान के तत्वावधान में बिहार आर्थिक अध्ययन संस्थान, पटना के…

पं॰ जवाहरलाल नेहरू द्वारा बताये गये आधुनिकतम वैज्ञानिकरण से ही आगे बढ़ा जा सकता है- डा॰ जगन्नाथ मिश्र

पटना 26 मई, 2017 पं॰ नेहरू जी की दूर दृष्टि के कारण विज्ञान और प्रौद्योगिकी का भारत में शक्तिशाली स्वदेशीय आधार निर्मित किया गया। इसका…

मुद्दे की बात करो, बकवास न करो चीन

ओंकारेश्वर पांडेय हाईलाइटर बात तो बात से ही बनेगी। बेतुके बातों से बात बिगड़ेगी ही। तो बात करो, बकवास न करो चीन। पाकिस्तान के आतंकवादियों…

डाॅ॰ अम्बेडकर मध्यम मार्गी थे वे आजीवन जाति के ध्वंस और गैर बराबरी की समाप्ति के लिए संघर्षशील रहे- डा॰ जगन्नाथ मिश्र

पटना 15 अप्रैल, 2017 डाॅ॰ अम्बेडकर ने सामाजिक न्याय के लिए सामाजिक जनतंत्र एवं राज्य-समाजवाद की वकालत की। वे जनतंत्र को न केवल एक औपचारिक…