Category: मस्ती मनोरंजन

बिहार-झारखंड में 25 मई को रिलीज होगी भोजपुरी फिल्‍म ‘आवारा बलम’

पटना, 03 मई 2018 : सुपरस्टार अरविंद अकेला कल्‍लू की भोजपुरी फिल्‍म ‘आवारा बलम’ 25 मई को बिहार और झारखंड के सिनेमाघरों में रिलीज होगी। ये जानकारी आज पटना में आयोजित संवाददाता सम्‍मेलन में फिल्‍म के निर्माता निशिकांत झा ने दी। उन्‍होंने बताया कि हम ‘आवारा बलम’ को रिलीज करने के लिए पूरी तर‍ह से तैयार हैं और इसे 25 मई को रिलीज करेंगे। उन्‍होंने दावा किया कि ‘आवारा बलम’ बॉक्‍स ऑफिस पर धमाल मचा देगी। यह पूरी तरह‍ से भोजपुरिया जड़ों से जुड़ी फिल्‍म है। फिल्‍म में कल्‍लू, तनुश्री और गार्गी पंडित की ट्राएंगल लव स्‍टोरी के बीच खलनायक बने वरसटाइल एक्‍टर अवधेश मिश्रा का अवतार भी काफी आकर्षक है।

संववादाता सम्‍मेलन में अरविंद अकेला कल्‍लू ने कहा कि यह फिल्‍म मेरे लिए खास है। सामाजिक और शहरी परिवेश के बीच भोजपुरिया संस्‍कृति को ध्‍यान में रखकर हमने यह फिल्‍म बनाई है। फिल्‍म में डांस, रोमांस और एक्‍शन की भरमार है। साथ ही पारिवारिक मूल्‍यों का भी खासा ख्‍याल रखा गया है। मुझे उम्‍मीद है कि भोजपुरिया दर्शकों का प्‍यार हमें जरूर मिलेगा। वहीं, निर्देशक चंदन उपाध्याय ने पत्रकारों से कहा कि ‘आवारा बलम’ का ट्रेलर लांच होते ही वायरल हो गया था, जिससे हमें पूरा विश्‍वास है कि फिल्‍म भी दर्शकों को काफी पसंद आने वाली है। ‘आवारा बलम’ के ट्रेलर में रखे गए गाने और डायलॉग से साफ जाहिर होता है कि फिल्‍म भोजपुरिया बॉक्‍स ऑफिस पर धमाल करने वाली है। फुल फ्लेज एक्‍शन के साथ रोमांस इस फिल्‍म की खूबसूरती मालूम पड़ती है। संवाददाता सम्‍मेलन में फिल्‍म की अभिनेत्री श्रव्‍या श्रेया, पलक तिवारी, अंकिता पांडेय और माही खान भी मौजूद रही हैं, जिन्‍होंने कहा कि फिल्‍म वाकई काफी अच्‍छी बनी है। इसलिए आप समस्‍त परिवार के साथ फिल्‍म को देखें।

फिल्‍म               :आवारा बलम

बैनर                  :पी. एन. जे. फिल्म्स

निर्माता              :निशिकांत झा

निर्देशक             :चंदन उपाध्‍याय

कास्‍ट                :अरविंद अकेला ‘कल्लू’, तनुश्री, प्रियंका पंडित, अवधेश मिश्रा, हीरा  यादव, देव सिंह, पप्पू   यादव, समर्थ चतुर्वेदी, मातृ, धामा वर्मा, अनूप अरोड़ा, जस्सी, एस. सी. मिश्रा, संजीव मिश्र, महेश आचार्य, शकीला माजिद, शिवांगी शाही, श्रव्‍या श्रेया, माही खान, पलक तिवारी और अंकिता पांडेय।

पीआरओ           : रंजन सिन्‍हा

कथा-पटकथा     : चंदन उपाध्याय

संवाद                :राजेश पांडे

गीत                   :प्यारेलाल यादव (कवि जी), श्याम देहाती, आज़ाद सिंह व सुमीत सिंह चंद्रवंशी

संगीत                :अविनाश झा घुंघरू

एक्शन               : हीरा यादव

कोरियोग्राफी       :कानू मुखर्जी

सिनेमेटोग्राफी      :डी. के. शर्मा

अब 13 अप्रैल को रिलीज होगी बहुप्रतीक्ष्रित भोजपुरी फिल्‍म ‘डमरू’

भोजपुरी की बहुचर्चित फिल्‍म ‘डमरू’ का रिलीज डेट एक्‍सटेंड कर दिया गया है। इसे कल यानी 6 अप्रैल को रिलीज होनी थी, मगर ऐन वक्‍त पर कुछ टेकनिकल कारणों से इसके रिलीज की तारीख बढ़ाकर 13 अप्रैल कर दिया गया है। इस बारे में फिल्‍म के निर्माता प्रदीप कुमार शर्मा ने कहा कि फिल्‍म काफी बड़ी और अच्‍छी है। इसलिए हम कोई रिस्‍क नहीं ले सकते। फिलहाल कुछ समस्‍याएं थी,जिसे अब हमने दूर कर लिया है। और फाइनली हम किसी फिल्‍म ‘डमरू’ को अगले वीकेंड में 13 अप्रैल से लेकर आयेंगे। भोजपुरी के दर्शकों को इस फिल्‍म का बेसब्री से इंताजर है, मगर अब ज्‍यादा इंतजार भी नहीं करना होगा। वैसे अच्‍छी फिल्‍मों के लिए इंतजार भी एक रोमांच देता है।

उन्‍होंने कहा कि एक अलग ही तर‍ह के कंसेप्‍ट पर बनी फिल्‍म ‘डमरू’ की गूंज भोजपुरी सिने प्रेमियों को गुदगुदायेगी,हंसायेगी और मनोरंजन के हर पहलुओं से रूबरू करायेगी। इस फिल्‍म का निर्माण में काफी भव्‍य तरीके से किया गया है। इसके निर्देशक रजनीश मिश्रा हैं, जो पहले भी भोजपुरी सिनेमा में लीक से हट कर फिल्‍में बना चुके हैं। हाल ही में वीनस म्‍यूजिक द्वारा जारी फिल्‍म ‘डमरू’ के ट्रेलर को दर्शकों ने पसंद किया है। फिल्‍म में खेसारीलाल यादव और याशिका कपूर की फ्रेश जोड़ी लोगों को पसंद भी आ रही। फिल्‍म के ट्रेलर में उनकी केमेस्‍ट्री को बहुत सराहना मिल रही है। साथ ही अवधेश मिश्रा अपने अनोखे अंदाज में लोगों को भा रहे हैं।

इस फिल्‍म ने रिलीज से पहले ही लोकप्रियता के कई कीर्तिमान स्‍थापित किये, जिस वजह दर्शकों के अलावा पूरी भोजपुरी फिल्‍म इंडस्‍ट्री को इस फिल्‍म का इंतजार है। फिल्‍म ’डमरू’ के बारे में यह भी दावा किया गया है कि यह भोजपुरी सिनेमा पर लगने वाले अश्‍लीलता के दाग से मुक्ति दिलायेगी और भोजपुरी सिनेमा से दूर हुए भोजपुरी दर्शकों की धारणा को पवित्र करने के लिए गंगाजल का काम करेगी।

ट्रेलर लिंक : https://youtu.be/h6ezbK3tTgo

फिल्‍म : डमरू (भोजपुरी)

बैनर : बाबा मोशन पिक्‍चर्स

निर्देशक : रजनीश मिश्रा

निर्माता : प्रदीप के शर्मा

पीआरओ : रंजन सिन्‍हा

म्‍यूजिक : रजनीश मिश्रा

लिरिक्‍स : प्‍यारे लाल यादव (कविजी), पवन पांडेय, अशोक कुमार दीप, श्‍याम देहाती

कास्‍ट : खेसारीलाल यादव, अवधेश मिश्रा, पदम सिंह, याशिका कपूर, आनंद मोहन, देव सिंह, रोहित सिंह मटरू, सुबोध सेठ, डॉ अर्चना सिंह

फिल्म ‘सूबेदार जोगिन्दर सिंह’ का एक और गाना ‘हथियार’ रिलीज

परमवीर चक्र विजेता ‘सूबेदार जोगिन्दर सिंह’ के जीवन पर आधारित बायोपिक का एक और गाना ‘हथियार’ भी रिलीज कर दिया गया है, जो अब वायरल हो गया। इस गाने को सागा हिटस के यू-ट्यूब चैनल पर रिलीज किया है। गाना ‘हथियार’ के बारे में खुद गिप्पी गरेवाल  ने कहा कि ‘हथियार’ दर्शकों के दिलों को छू लेगा और हर भारतीय गौरवान्तिव महसूस करायेगी। इस गाने में कई ऐसे मौके आते हैं। जहां एक व्‍यक्ति उस सैनिक की भावनाओं से अवगत होता है, जो एक ऐसी यात्रा पर है, जहां से उसकी वापसी अनिश्चित है। फिर भी उसके दिमाग में दृढ़ निश्चय और अपने कर्तव्य ने उसे राष्ट्र के सम्‍मान के लिए लड़ने को  उस रास्‍ते पर चलने का जज्‍बा पैदा करता है।उन्‍होंने कहा कि 6 अप्रैल को देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली बेहद महत्वाकंक्षी फिल्‍म ‘सूबेदार जोगिन्दर सिंह’  का ‘हथियार’ तीसरा गाना है, जिसकी शुरूआत सिखों के दसम ग्रंथ में गुरु गोविंद जी की बानी ‘देव शिवा बर मोहे इहे शुभ कर्मन ते काबू ना डरोन, ना देरां अर सियो जब जय लरौ निश्चय कर अपनी जीत करोन’ से होती है। इसका अर्थ होता है कि हे भगवान, मुझे यह वरदान प्रदान करें, मैं दुश्मनों के भय के बिना और दृढ़ संकल्प के साथ लड़ू और जीतूं। वैसे भी बहुत समय से सिखों ने अपनी पहचान शक्ति और बहादुरी  बनाया है। कम हम जानते हैं मगर  कम से कम हम योद्धाओं के सर्वोच्च बलिदानों को स्वीकार करते हैं जो देश के लिए अपना जीवन व्यतीत करते हैं।सूबेदार जोगिंदर सिंह की बायोपिक सराहनीय, जिसे निर्माताओं ने इतिहास के विस्मृत अध्यायों में से निकाल कर पर्दे पर ला रहे हैं, जो प्रत्येक व्यक्ति के लिए सार्थक है। व्यावसायिक फिल्मों के युग में, यह फिल्म पंजाबी सिनेमा  दुनिया में एक ऐतिहास टर्नओवर के लिए जानी जायेगी। न केवल एक महान शैली बल्‍कि, एक सम्मोहक कहानी और एक उल्लेखनीय अवधारणा के बारे में यह फिल्म है। यह उस ईमानदारी के बारे में भी है, जिसके द्वारा इसे बनाया गया है और प्रामाणिकता जो एक भूले समय को फिर से तैयार करने के लिए बनाया गया है।बता दें कि गिप्पी गरेवाल  और अदिति शर्मा स्‍टार फिल्‍म  सूबेदार जोगिन्दर सिंह के पहले दो गाने को भी खूब रेस्‍पांस मिला था। पहला गाना ‘गल दिल दी’ थी, जबकि दूसरा गाना न्‍यूयॉर्क में स्थित द टाइम्‍स स्‍क्‍वायर की रंग बिरंगी लाइटों वाली एक शाम में परमवीर चक्र विजेता सूबेदार जोगिंदर सिंह की बायोपिक का गाना ‘इश्‍क द तारा’ ने धूम मचा दी थी। पंजाबी सिनेमा के इतिहास की यह बार हुआ, जब किसी फिल्‍म के गाने को अन्तर्राष्ट्रीय मंच द टाइम्‍स स्‍क्‍वायर पर रिलीज किया गया था। यह देश की पहली ऐसी जीवनी हैं जो किसी परमवीर चक्र विजेता पर बनी है और पंजाबी के अलावा तीन भाषाओं – हिंदी, तमिल और तेलगु में सेवन कलर मोशन पिक्चर द्वारा निर्मित, सागा म्यूजिक और यूनीसिस इंफोसोल्यूशन के सहयोग से रिलीज़ होगी।

गृहणियों की छुपी हुई प्रतिभा को मंच दे रहा रियालिटी बिग मेम साहब 8

गृहणियों की छुपी हुई प्रतिभा को मंच दे रहा रियालिटी बिग मेम साहब 8: विनय आनंद

भोजपुरी गृहणियों का आईक्‍यू लेवल करता है सरप्राइज्‍ड : मधु शर्मा

गृहणियों के टाइलेंट को मिल रहा बड़ा एक्‍सपोजर : रिंकू घोष

पटना: बिहार, झारखंड और यूपी की गृहणियों की छुपी हुई प्रतिभा को एक शानदार मंच और सम्‍मान दे रहा है रियालिटी शो बिग मेम साहब, जिसका यह आठवां सीजन है। ये कहना है भोजपुरी के मशहूर अभिनेता व टीवी प्रिजेंटर विनय आनंद का। उन्‍होंने आज पटना स्थित गंगा रिसॉर्ट में शूटिंग के दौरान ‘बिग मेम साहब सीजन 8’ के सेट पर बताया कि यह बिहार के लिए अच्‍छी खबर है कि अब इतने बड़े  टीवी रियालटी शूटिंग यहां हो रही है। उन्‍होंने कहा कि ‘बिग मेम साहब सीजन 8’महिलाओं को समर्पित एक ऐसा मंच है, जहां कंटेस्‍टेंट करोड़ों लोग इसे देख रहे हैं और उन्‍हें एक पहचान दिला रहे हैं।

विनय आनंद ने बताया कि इस शो की प्रसारण बिहार, झारखंड और यूपी में अग्रणी भोजपुरी चैनल बिग गंगा पर होता है। जिसमें सिर्फ ‘बिग मेम साहब सीजन 8’ का टीआरपी रेटिंग .8 रहा है, जो महानायक अमिताभ बच्‍चन के शो केबीसी के बराबर है। टीवी के अलावा इस शो बिग गंगा के ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म पर वर्ल्‍ड वाइड देखा जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि पहले भोजपुरी सिनेमा और शोज के बारे में ये धारणा थी कि इसमें मास होता है, मगर क्‍लास नहीं। यकीन मानिये इस बार ‘बिग मेम साहब सीजन 8’ में जो कंटेस्‍टे आ रहे हैं, क्‍लास से ही आ रहे। उन्‍होंने कहा कि मैंने इस शो को छठे और सातवें सीजन में भी होस्‍ट किया था। यह शो हर सीजन दर सीजन और परिपक्‍व होता जा रहा है।

सेट पर मौजूद भोजपुरी अभिनेत्री रिंकू घोष ने कहा कि ‘बिग मेम साहब सीजन 8’ उन गृहणियों के टाइलेंट के एक्‍सपोजर दे रहा है, जिनको शादी से पहले अपनी प्रतिभा को दिखाने का मौका नहीं मिला। वे घरेलु मसलों में उलझ कर रह गईं, मगर इस शो में वे खुलकर सामने आ रही है। इसमें उनके परिवार का सपोर्ट भी खूब मिल रहा है। इस शो को देखने के बाद पता चलेगा कि इन गृ‍हणियों में कितना टाइलेंट छुपा है चाहे वो एक्टिंग का हो, सिंगिंग का हो, कुकिंग का हो या फिर कॉमेडी का हो। वहीं, भोजपुरी अभिनेत्री मधु शर्मा ने भोजपुरी रीजन से आने वाली गृहणियों के आईक्‍यू लेवल से काफी प्रभावित नजर आयीं।

मधु ने कहा कि भोजपुरी गृहणियों का आईक्‍यू लेवल से हम सरप्राज्‍इड है, क्‍योंकि हम मान लेते हैं कि जिनकी शादी हो गई है, उनको एक्‍सपोजर नहीं मिलने की वजह से आईक्‍यू लेवल कम होगा। मगर ऐसा नहीं है। उन्‍होंने बस अपनी इच्‍छा को दबा कर रखा था, ‘बिग मेम साहब सीजन 8’ उसे बाहर करने का मौका देता है। इस मंच पर तो कई ऐसी भी गृ‍हणियां आईं, जिन्‍हें अपने खुद के टाइलेंट के बारे में अंदाजा भी नहीं था। उन्‍होंने बताया कि ‘बिग मेम साहब सीजन 8’ के लिए देशभर से लाखों लोगों ने ऑडिशन दिये,‍ जिसमें से 128 का सेलेक्‍शन हुआ है, जो अपनी छुपी हुई प्रतिभा को दुनिया के सामने बखूबी लेकर हाजिर हैं।

परिवार और परिवेश के अनुकूल फिल्‍म बनाने में है विश्‍वास : रजनीश मिश्रा

भोजपुरी के पुराने दौर को वापस लाने के लिए प्रयासरत और वर्तमान में लीक से हटकर फिल्‍म बनाने के लिए रजनीश मिश्रा आगे आये हैं। उन्‍होंने अपनी पहली फिल्म ‘मेहंदी लगा के रखना’ से ही संकेत दे दिया कि उनकी सोच मौजूदा दौर में बन रही भोजपुरी फिल्‍मों से इतर है। उन्‍होंने इस फिल्‍म से ये साबित कर दिया कि अगर भोजपुरी फिल्‍मों में भोजपुरिया परिवेश पर कहानी बुनी जाय, तो वह हिट होती है और दर्शकों द्वारा सराही भी जाती है। उनका मानना भी है कि फिल्मों की कहानी हमारे अपने परिवेश और परिवार से निकलनी चाहिए।
संगीतकार से निर्देशन के क्षेत्र में कदम रखने वाले रजनीश मिश्रा ने भोजपुरिया इंडस्‍ट्री को ये संदेश दिया है कि भोजपुरी संस्कृति और सामाजिक परिवेश पर आधारित फिल्मों का दौर अभी खतम नहीं हुआ है। बस ऐसी फिल्‍में बनाने की लोगों में इच्‍छाशक्ति की कमी आई है। रजनीश इस बार महापर्व छठ पर एक और पारिवारिक व मनोरंजक फिल्‍म लेकर आ रहे हैं, जो है – ‘मैं सेहरा बांध के आऊंगा’। वो भी रजनीश मिश्रा स्‍टाइल में, जिसमें हास्य और विनोद से भरा सिक्‍वेंस दर्शकों को हंसते – हंसाते रुला देगी।
दिल में संगीत को रखने वाले रजनीश अभी देवभूमि काशी में फिल्‍म ‘डमरू’ की शूटिंग कर रहे है। यह फिल्‍म भी परिवार और परिवेश के अनुकूल है। इस बारे में रजनीश मिश्रा कहते हैं कि डमरू सही रूप से इंसान और भगवान के बीच के संबंधों को उजागर करता है। यह जरूरी नहीं है कि भक्त ही भगवान के लिए व्याकुल रहे, कभी कभी भगवान भी भक्त के लिए व्‍याकुल हो जाते हैं। फिल्‍म मेकिंग के बारे में रजनीश कहते हैं कि अगर मैं म्यूजिक डायरेक्टर के काम से आगे बढ़ कर डायरेक्शन के लिये आया हूं, तो मेरी पहली ज़िम्मेदारी ये बनती है कि मैं वो करूं जिसको होता देखना चाहता था. ऐसी फिल्‍में बनाउं, जिससे लोगों का मनोरंजन तो हो ही साथ में मुझे भी लगे कि मैंने कुछ बनाया है।

भोजपुरी फिल्‍म निर्माण के क्षेत्र में निर्माता प्रदीप सिंह ने सेट किया नया ट्रेंड

रंजन सिन्‍हा की रिपोर्ट
भोजपुरी सिनेमा इंडस्‍ट्री के इस दौर में यूं तो कई सफल निर्माताओं का नाम आता है, मगर उनमें निर्माता प्रदीप सिंह की बात ही कुछ और है। फिल्‍म निर्माण के क्षेत्र में प्रदीप सिंह की कार्यकुशलता और उनका नजरिया, उन्‍हें अन्‍य निर्माताओं से अलग करता है। उन्‍होंने माईबाप,विधाता, खूनभरी मांग, सरकार राज, इंडिया वर्सेस पाकिस्‍तान जैसी फिल्‍मों से भोजपुरी सिनेमा में एक नया ट्रेंड सेट किया। अभी उनकी एक और बेहतरीन फिल्‍म ‘मैं सेहरा बांध के आउंगा’ फ्लोर पर है, जिसका निर्देशन रजनीश मिश्रा ने किया है। इसके अलावा अभी हाल ही में उन्‍होंने धार्मिक शहर बनारस में ‘इंडिया ई कॉमर्स लिमिटेड’ के बैनर तले एक नई फिल्‍म की भी घोषणा की है, जिसमें मेगा स्‍टार रवि किशन, सुपर स्‍टार खेसारीलाल यादव और सुपर विलेन अवधेश मिश्रा नजर आयेंगे।
उत्तर प्रदेश के बांदा से आने वाले प्रदीप सिंह कहते हैं कि उन्‍हें ऐसी फिल्‍में करने में ज्‍यादा मजा आता है, जिसमें आत्‍म संतुष्टि हो। लगे कि हमने कोई अच्‍छा काम किया है। अच्‍छी फिल्‍म बनाई है। दर्शक जब सिनेमाघरों से बाहर आयें, तो उन्‍हें लगे कि उनकी मेहनत की गाढ़ी कमाई जाया नहीं हुई। वे आगे कहते हैं- ‘मेरी कोशिश होती है कि मेरी फिल्‍में भोजपुरी सिनेमा इंडस्‍ट्री का प्रतिनिधित्‍व करे।‘ प्रदीप सिंह का मानना है कि अच्‍छी फिल्‍में ही लोगों के दिलों में जगह बना पाती हैं और लंबे समय तक उनके संस्‍मरण में भी रहती है। फिल्‍म निर्माण आसान काम नहीं है।
बता दें कि प्रदीप सिंह की कंसिटेंसी की वजह से भोजपुरी सिने जगत के बड़े से बड़े कलाकार उनकी फिल्‍मों को ना नहीं कह पाते हैं। तभी तो उनकी फिल्‍मों में अब तक रवि किशन, दिनेशलाल यादव निरहुआ, पवन सिंह‍, खेसारीलाल यादव, अरविंद अकेला कल्‍लू, रीतेश पांडेय, राकेश मिश्रा जैसे अभिनेता नजर आ चुके हैं। तो भोजपुरिया क्‍वीन रानी चटर्जी, पाखी हेगड़े, रिंकू घोष, मोनालिसा, स्विटी छाबड़ा, अक्षरा सिंह, काजल राघवानी, प्रियंका पंडित, प्रतिभा पांडेय और निशा पांडेय जैसी अभिनेत्रियां भी प्रदीप सिंह की फिल्‍मों की अभिनेत्री अदाकारी करती नजर आई हैं।
वहीं, प्रदीप सिंह के बारे में खास तौर पर सुपर स्‍टार खेसारीलाल यादव कहते हैं कि वे एक ऐसे निर्माता है, जिन्‍हें इंडस्‍ट्री और दर्शकों का नब्‍ज मालूम है। वे बिजनस के साथ – साथ अच्‍छी स्क्रिप्‍ट को तवज्‍जो देते हैं, जिस वजह से उनकी फिल्‍मों का कारोबार तो अच्‍छा ही है। साथ में दर्शकों को भी उनकी फिल्‍में पसंद आती है। आज उनके साथ काम करने की इच्‍छा सभी कलाकारों को रहती है। सच कहूं तो उनका काम के प्रति समर्पण और परफेक्‍शन ही उन्‍हें अन्‍य निर्माताओं से अलग बनाता है।

सामने आया “चोर नं0 1” फर्स्ट लुक

चोर नं0 1 का फर्स्ट लुक जारी किया गया है। फर्स्ट लुक के तौर पर जारी की गई पोस्टर फ़िल्म के कुछ अलग हट के होने का हिंट करती है। पोस्टर में फ़िल्म के मुख्य अभिनेता हासिम एक शातिर चोर नज़र आ रहे हैं और ऐसा प्रतीत हो रहा है कि फ़िल्म में हासिम कई हैरत अंगेज़ कारनामे करने वाले हैं।
स्वतंत्रता दिवस के दिन फ़िल्म से जुड़े लोग फ़िल्म के “चोर नं0 1” की पहली झलक सोशल साइट पर साझा करते हुए दिखे। पोस्टर के माध्यम से ये अपने सुभेच्छाओं को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दे रहे थें।
चर्चित भोजपुरी सिनेमा “चोर नं0 1” लगभग बन कर तैयार है। लिक से हटकर एक स्वस्थ कॉमेडी फ़िल्म को ले कर आ रहे हैं निर्देशक सागर सिन्हा। निर्माता अजय कुमार की फ़िल्म “चोर नं0 1” का पहला पोस्टर रिविल्ड करते ही देखते ही देखते यह सोशल मीडिया पर छा गया।
फ़िल्म के विषय मे सागर सिन्हा बताते हैं की ये फ़िल्म लोगो को हंसा हंसा कर पागल कर देगी। यह एक स्वस्थ मनोरंजक फ़िल्म होगी। इस रोमांटिक कॉमेडी फिल्म में आपको ढेर सारा संस्पेंस भी देखने को मिलेगा। जय जय काली फ़िल्म प्रोडक्शन के बैनर तले बनने वाली इस फ़िल्म के मुख्य कलाकार हैं हासिम खान और स्वेता शर्मा। हासिम इससे पहले कई सीरियल में काम कर चुके हैं और स्वेता दिल्ली की प्रसिद्द मॉडल हैं।
फ़िल्म के सह निर्देशक देव चौधरी ,पी आर ओ सर्वेश कश्यप है। अन्य कलाकारों में रमेश सावंत, सुशांत रौशन, कुंदन सागर, शिव कुमार, मंजू सिन्हा, किस्टो मुखर्जी, मनोज कुमार , कुलदीप, अभिषेक, राकेश कुमार महंत, शम्भू शर्मा, गोपाल आदी दीखेंगे। फ़िल्म के एडिटर सन्नी सिन्हा एवम डी ओ पी सिंटू सिंह हैं। फ़िल्म जल्द ही रिलीज होगी।

जल्‍द ही प्रदर्शित होगी विक्रांत-मोनालिसा की ’पाकिस्तान में जय श्रीराम’

भाजपुरी सिनेमा के फिटनेस आइकॉन विक्रांत सिं‍ह राजपूत की बहुप्रतिक्षित फिल्‍म ‘पाकिस्‍तान में जय श्रीराम’ शीघ्र ही प्रदर्शित होगी। इस फिल्‍म का निर्माण ‘गदर’ जैसी सुपर हिट फिल्‍म बना चुके भूपेंद्र विजय सिं‍ह की है। उनकी मानें तो यह फिल्‍म ‘गदर’ से भी आगे जाएगी। इस फिल्‍म को सिंगल थियेटर के अलावा मल्‍टीप्‍लेक्‍स में भी प्रदर्शित करने की तैयारी चल रही है।
इस फिल्‍म की खास बात ये है कि बिग बॉस सीजन 10 और नच बलिए से चर्चा में आई मोनालिसा और विक्रांत सिंह राजपूत फिर से लंबे समय बाद एक साथ नजर आ रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि छोटे पर्दे पर धमाल मचाने के बाद भोजपुरी पर्दे पर पहली बार इनकी केमेस्‍ट्री देखने को मिलेगी। इस जोड़ी की पिछली कई फिल्‍मों को दर्शकों ने काफी पसंद किया है। फिल्‍म विक्रांत सिंह राजपूत और मोनालिसा के अलावा अवधेश मिश्रा, नेहा सिंह, हीरा यादव, धामा वर्मा, बालगोविंन्द बंजारा, प्रेम प्रधान, उल्हास कुडवे और सोनिया मिश्रा भी मुख्य भूमिका हैं।
फिल्‍म को लेकर विक्रांत कहते हैं कि यह उनके लिए अब तक की सबसे चुनौतीपूर्ण फिल्‍म है। इस फिल्‍म में कई ऐसी चीजें हैं, जो दर्शकों के लिए नया होगा। निर्देशक रामाकांत प्रसाद के साथ काम करने का अनुभव भी बहुत अच्‍छा रहा है। वे इंडस्‍ट्री के उम्‍दा निर्देशकों में से एक है। हमने इस फिल्‍म के लिए काफी मेहनत की है। ‘पाकिस्‍तान में जय श्रीराम’ कंप्‍लीट एक्‍शन और रोमेंटिक फिल्‍म है, जो भोजपुरिया दर्शकों को काफी पसंद आएगी।
वहीं, निर्माता भुपेन्द्र विजय सिंह और बबलू एम गुप्ता को पूरी उम्मीद है कि ये फिल्म ’गदर’ का रिकार्ड तोड़ेगी। अगर ऐसा होता है तो ’पाकिस्तान में जय श्रीराम’ इस साल की सबसे ज्यादा कारोबार करने वाली फिल्म साबित होगी। इससे भोजपुरी सिनेमा को निश्‍चय ही बल मिलेगा। फिल्‍म ‘पाकिस्तान में जय श्रीराम’ का संवाद और संगीत खुद रामाकांत प्रसाद ने तैयार किया है।

‘चैलेंज’ मेरे लिये भी है चैलेंजिंग – मधु शर्मा

फासलों की अपनी सिद्दत होती है। कैफियत की अपनी रवायत होती है। शायर ने कहा था फूल भी हो दरमियां तो फासले हुये। किसी शायर की गजल की भांति हैं भोजपुरी फिल्मों की अदाकार मधु शर्मा। मधु शर्मा का जन्म राजस्थान के जयपुर में 13 दिसंबर 1984 को मारवाड़ी फैमिली में हुआ था। उन्हे बचपन से एक्ट्रेस बनने का शौक था। वे भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार पवन सिंह के साथ फिल्म ‘चैलेंज’ की नायिका हैं। लगातार हिट पर हिट फिल्म देने वाली मधु शर्मा इन दिनों चर्चा में हैं अपनी फिल्म ‘चैलेंज’ को लेकर। प्रस्तुत है चैलेंज फिल्म को लेकर मधू शर्मा से रंजन सिन्‍हा की बातचीत –
फिल्म चैलेंज में अपनी भूमिका के बारे में बताइये?
इस फिल्म में मैं एक नटखट लड़की की भूमिका में हूं, जो मुंबई की है। उसे बिहार के लड़कों से नफरत थी। वजह क्या थी ये आपको फिल्म देखने के बाद पता चलेगा।।
आप ताईक्वांडो में ब्लैकबैल्ट हैं। किक बांक्सिंग भी जानती हैं। तो ‘चैलेंज’ में भी एक्शन सीन होगा?
इस फिल्म में मेरी भूमिका एक पुलिस अधिकारी की है। जाहिर है इस कला का मैंने खूब प्रयोग किया है। जमकर एक्शन किया है। साफ तौर पर कहूं तो ‘चैलेंज’ मेरे लिये भी चैलेंलिंग है।
आपने साउथ की कई फिल्में की हैं। तो अब भोजपुरी के अनुभव के बारे में बताएं?
भोजपुरी में मेरी पहली फिल्म थी ‘एक दूजे के लिए’। इस फिल्म की कामयाबी के बाद तो फिल्मों की लाईन लग गयी। यह काफी बेहतर इंडस्ट्री है। मुझे गर्व है कि मैं भोजपुरी फिल्म जगत का हिस्सा हूं।
फिल्म ‘चैलेंज’ पवन सिंह के साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा?
पवन जी की बात आते ही मुझे हंसी आती है। वे सेट पर हमेशा हंसाते रहते हैं। फैन्स से हमेशा घिरे रहने वाले पवन सिंह कब किस मुद्दे पर किसको हंसा देंगे ये कोई नहीं जानता।
कौन-कौन सी भाषायें सींख चुकी है?
फिल्मों में काम करते-करते तेलुगु और भोजपुरी भी सीख गई हूं। मुझे बचपन में श्रीदेवी की फिल्में देखने का शौक था।
फिल्‍म ‘चैलेंज’ में आपका अनुभव कैसा रहा ?
इस फिल्‍म के दौरान मैं क्या पूरी टीम ही उत्साहित है। यह इस साल की सबसे चर्चित फिल्म है। हर कोई इस फिल्म का इंतजार कर रहा है। लाखों लोग इसका प्रोमो देख चुके हैं।

फेसबुक पर मनोज – निरहुआ, तो इंस्‍टाग्राम पर पवन- खेसारी हिट

आज सोशल मीडिया का जमाना है। सो आम आदमी से लेकर हर छोटे बड़े सभी सेलिब्रेटी भी इसका जमकर उपयोग कर रहे हैं। सभी को अपनी मन की बात करने के लिए अच्छा प्लेटफार्म भी है। रिस्पांस भी तुरंत मिलना शुरू हो जाता है। इन दिनों भोजपुरी के सभी स्‍टार भी सोशल मीडिया का जमकर उपयोग कर रहे हैं। लेकिन इन स्‍टारों में किसको आम आदमी पसंद कर रहे हैं, इसपर नज़र डालें तो पता चलता है कि फेसबुक अभिनेता से नेता बने मनोज तिवारी, तो इंस्‍टाग्राम पर सबसे एक्‍शन स्‍टार पवन सिंह को पसंद करते है।
बात शुरू करते हैं सबसे ज्‍यादा लोगों तक पहुंच रखने वाले फेसबुक की। यहां मनोज तिवारी ‘मृदुल’ को सबसे ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं। उनके फॉलोअर्स की संख्‍या 6,69,405 है। हालांकि मनोज तिवारी अब फिल्‍मों से ज्‍यादा राजनीति में सक्रिय हैं। वे दिल्‍ली प्रदेश भाजपा के अध्‍यक्ष के साथ – साथ नार्थ ईस्‍ट दिल्‍ली से लोकसभा में प्रतिनिधि (सांसद) भी हैं। मनोज तिवारी के बाद फेसबुक पर सबसे ज्‍यादा दिनेशलाल यादव ‘निरहुआ’ पसंद किये जाते हैं। इनके फॉलोअर्स की संख्‍या 5,70,596 है। तीसरे नंबर पर हैं मेगा स्‍टार रवि किशन। उन्‍हें 3,09,668 लोग फॉलो करते हैं।
वहीं, पवन सिंह को 1,44,269 लोग फेसबुक पर फॉलो करते हैं। इसके बाद नंबर आता है – खेसारीलाल यादव का। हालांकि इनके नाम से कई फेसबुक अकाउंट हैं, कोई वेरीफाइड नहीं है। मगर जिस अकाउंट पर उनसे संबंधिति एक्‍टीविटी ज्‍यादा है, उस पर उनके फॉलोअर्स की संख्‍या 53, 434 है। गायक व अभिनेता अरविंद अकेला ‘कल्‍लू‘ के 37,695 और यश कुमार के 32,122 फॉलोआर्स हैं।
अब देखते हैं इंस्‍टाग्राम की ओर, जहां पवन सिंह सबसे ज्‍यादा पसंद किए जाते हैं। इंस्‍टाग्राम पर पवन सिंह के फॉलोअर्स की संख्‍या 54.3 K है। तो दूसरे नंबर पर खेसारीलाल यादव 40.2 K के साथ काबिज हैं, जबकि दिनेशलाल यादव ‘निरहुआ’ 40.1 K के साथ तीसरे नंबर पर हैं। इसके बाद अरविंद अकेला ‘कल्‍लू’ आते हैं, जिनको फॉलो करने वालों की संख्‍या 18.6 K है, जबकि बिग बॉस सीजन 10 से चर्चा में आए भोजपुरी के फिटनेस आइकन विक्रांत सिंह राजपूत हैं, जिन्‍हें 17.8 K लोग पसंद करते हैं। इसके अलावा राकेश मिश्रा को 12.6 K, रवि किशन को 11.6 K, प्रदीप पांडेय को 10.9 K और यश कुमार को 10.2 K लोग फॉलो करते हैं।

ये आंकड़ें तीन जुलाई 2017 के हैं।