कौषल विकास केन्द्र के नाम पर हो रही जनता के गाढ़ी कमाई की लूट

पटना, 22 जुलाई, 2017
राष्ट्रीय सोनिया गांधी ब्रिगेड कांग्रेस के प्रदेष अध्यक्ष सौरव वर्मा ने बिहार के षिक्षा मंत्री सह बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष श्री अषोक चैधरी को बधाई देते हुए कहा कि जहां एक ओर केन्द्र सरकार षिक्षित युवाओं को बेराजगार बनाने और केन्द्र के अधीन विभिन्न विभागों में वैकेंसी न निकालने पर तुली है, वहीं महागठबंधन सरकार ने षिक्षा विभाग में नौकरियों का पिटारा खोल षिक्षित बेरोजगार युवाओं की सुध ली है। जिससे युवाओं व अन्य बेरोजगार लोगों में हर्ष का माहौल व्याप्त है और षिक्षा मंत्री के इस पहल को काबिलेतारिफ बताया है। श्री वर्मा कहा कि जहां राज्य सरकार जल्द ही 19864 षिक्षकों को बहाल करेगी, वहीं आदेषपाल और रात्रि प्रहरियों को भी बहाल करेगी। जिससे बेरोजगार षिक्षित युवाओं व अन्य लोगों में रोजगार के प्रति आषा की किरण जगी है।
श्री वर्मा ने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार पूरी तरह से युवा विरोधी है। यहीं वजह है कि जहां यूपीए शासनकाल में देष के युवा किसी न किसी प्रतिष्ठान-विभागों में कार्य कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे थे परंतु मोदी सरकार को उनका कमाना कतई शोभा नहीं दिया और नोटबंदी लागू का देष के लाखों युवाओं के हाथों से रोजगार छिनने में अहम भूमिका निभायी। हर साल लाखों युवाओं को नौकरी दिलाने का सब्जबाग दिखाकर युवाओं को ठगने वाली केन्द्र सरकार ने कौषल विकास योजना को जमीन पर उतारा लेकिन उक्त योजना का पूरे देष में क्या हश्र है, किसी से छिपी नहीं है। उक्त योजना सिर्फ कागजों पर ही दिखती है। अगर उक्त योजना की जांच किसी स्वतंत्र जांच एजेंसी से कराया जाए तो दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। रेवरियों के तरह गांव-प्रखंडों में बांटे गए कौषल विकास केन्द्र सिर्फ जनता के गाढ़ी कमाई को लूटने के लिए दिया गया है। उन्होंने कौषल विकास केन्द्रों की जांच की मांग करते हुए संचालकों पर कठोर कार्रवाई करने की मांग की है, ताकि देष के नौजवानों का भविष्य गर्त में जाने से रोका जा सके।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *