श्याम रजक नें कहा कि संविधान में बाबा साहब ने कई अधिकार दिया लेकिन वह दस्तावेज था उसे नीतीश कुमार ने खोलने का कार्य किया

श्याम रजक के नेतृत्व में औरंगाबाद में हुआ जद(यू०) जिलास्तरीय दलित-महादलित सम्मेलन-
जदयू पार्टी द्वारा 1 अक्टूबर से शुरू हो कर 8 अक्टूबर तक चलने वाले जिलास्तरीय दलित-महादलित सम्मेलन के दूसरे दिन आज औरंगाबद जिले के अनुग्रह कॉलेज परिसर में जनता दल (यू०) के जिलास्तरीय दलित-महादलित सम्मेलन का आयोजन हुआ। जिसमें जदयू के राष्ट्रीय महासचिव सह विधायक श्री श्याम रजक सहित जदयू के अन्य गणमान्य नेता मौजूद रहे।
श्री रजक ने कहा कि हमारी पार्टी और हमारे नेता माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार सदा दलितों के हितैसी रहे हैं। उन्होंने दलितों के उत्थान के लिए तमाम कार्य किये हैं। श्री रजक नें कहा कि संविधान में बाबा साहब ने कई अधिकार दिया है। लेकिन वह दस्तावेज था ।उसे माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खोलने का कार्य किये है । उसी का नतीजा है कि आज आप जिला परिषद अध्यक्ष ,प्रखंड प्रमुख और के मुखिया के पद पर आसीन हैं ।बाबा साहब का एकही नारा था शिक्षित बनो संगठित रहो। लेकिन आज हमारे बीच समस्या है कि ना तो हमारा समाज शिक्षित हुआ और ना ही संगठित हुआ। माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पंचायत में आरक्षण देकर दलित महादलित परिवार को जिला परिषद अध्यक्ष और प्रखंड प्रमुख की कुर्सी तक पहुंचाया है।
श्री रजक ने बताया कि कल 3 अक्टूबर को पटना के श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में भव्य सम्मेलन का आयोजन होने जा रहा है। कल पटना महानगर/पटना जिला ग्रामीण/बाढ़ , जनता दल (यू०) के ” दलित-महादलित कार्यकर्ता सम्मेलन ” का आयोजन होगा। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में माननीय मुख्यमंत्री सह जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आदरणीय श्री नीतीश कुमार जी तथा उद्घाटनकर्ता के रूप में बिहार प्रदेश जदयू के अध्यक्ष आदरणीय श्री वशिष्ठ नारायण सिंह जी मौजूद रहेंगे।
श्री रजक नें अपील की है कि सभी दलित-महादलित भाई-बहन तथा जदयू कार्यकर्ता इस सम्मेलन में निश्चित रूप से उपस्थित होकर इस कार्यक्रम को सफल बनायें और दलितों की आवाज बुलंद करें। बता दे कि श्याम रजक के नेतृत्व वाली टीम अरवल, औरंगाबाद, गया, नवादा, जहानाबाद और पटना जिले में सम्मेलन कर रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

3 + 2 =